Saturday, 27 October 2018

अम्बर वशिष्ट का पंजाबी गीत खम्ब


अम्बर वशिष्ट, सिर्फ पांच सालों में पंजाबी संगीत में बड़ा नाम कमा चुके हैं।

उनका संगीत की दुनिया में पहला गीत अँखियाँ न अँखियाँ च रहन दे २०१३ में रिलीज़ हुआ था। 

पंजाब के एक हिन्दू ब्राह्मण परिवार में जन्मे अम्बर वशिष्ट ने उच्च शिक्षा पूरी कर संगीत का प्रशिक्षण भी लिया है।

जब वह कॉलेज की पढ़ाई कर रहे थे, तभी उन्हें पंजाबी फिल्म जट्ट एंड जूलिएट २ में गाने का मौका मिला। अँखियाँ नु इसी फिल्म का गीत है।

वह इस गीत के लिए बेस्ट सिंगर का पीटीसी फिल्म अवार्ड २०१३ भी जीत चुके हैं।

उन्होंने फिल्म मुंडियां तो बचके रहीं फिल्म का दिल रोईं जांदा और फिल्म हैप्पी गो लकी का कॉफ़ी शॉप गीत भी गाया हैं।

अब उनका नया गीत खम्ब टी-सीरीज द्वारा रिलीज़ हुआ है।

इस गीत का संगीत गोल्डबॉंय द्वारा तैयार किया गया है। इसे निर्माण ने लिखा है। गीत के वीडियो को फ्रेम सिंह ने निर्देशित किया है।

ऊपर क्लिक कर सुनिए गीत।

No comments:

Post a Comment