Wednesday, 29 March 2017

चीन में फंसा जेम्स बांड का २५वा अवतार !

मध्य २००० में मेट्रो- गोल्डविन मेयर नकदी की कमी से जूझ रहा था, उस समय उन्होंने सोनी के साथ समझौता किया था कि वे जेम्स बांड फिल्मों को फाइनेंस करेंगे।  बदले में सोनी को जेम्स बांड फिल्मों को पूरे विश्व में वितरित करने के अधिकार और लाभ में कुछ हिस्सा मिलने थे।  कैसिनो रॉयले इस डील के अंतर्गत बनने वाली पहली फिल्म थी।  क्वांटम ऑफ़ सोलेस के वितरण अधिकार भी उसी समय मिल गए थे।  बाद में स्काईफॉल और स्पेक्टर को भी सोनी ने ही रिलीज़ किया।  इसके बाद फंसा पेंच।  काफी लोगों का  यह सोचना था कि डेनियल क्रेग की बतौर जेम्स बांड पांचवी फिल्म को सोनी द्वारा फाइनेंस करना बुद्धिमत्तापूर्ण कार्य नहीं होगा।  इससे सोनी के अधिकारियों में  असमंजस की स्थिति पैदा हो गई।  इसके बावजूद जेम्स बांड फ्रैंचाइज़ी के को-प्रोड्यूसर माइकल जी विल्सन २०१६ के शुरू में यह समझौता हो जाने की उम्मीद रखते थे।  पिछले साल न्यू यॉर्क पोस्ट पर एक लेख से यह जानकारी मिली कि चीन की किसी अनाम कंपनी से एमजीएम की बात काफी कुछ बन चुकी है।  बाद में कुछ दूसरे सूत्रों ने भी इसकी पुष्टि की।  लेकिन, इसके बाद हुए अमेरिकी राष्ट्रपति के चुनाव में डोनाल्ड ट्रम्प की जीत के साथ ही यह डील टूट गई।  डोनाल्ड ट्रम्प  सरकार की अमेरिकी कंपनियों में  विदेशी निवेश में कमी करने की नीति के बाद चीन सरकार के पूँजी निवेश की राशि चीन से बाहर जाने पर  नियंत्रण के बाद यह सौदा मुश्किलों भरा साबित होने जा रहा था।  अब एक बार फिर एमजीएम को इंतज़ार है निवेशक का, जो २०० मिलियन डॉलर का निवेश ५० मिलियन डॉलर के प्रॉफिट के लिए करे। ऐसे में सवाल लाजिमी है कि कब शुरू होगी जेम्स बांड फिल्म !

No comments:

Post a Comment