Wednesday, 22 March 2017

बॉलीवुड के लिए ज़रूरी नहीं शादी से बच्चा !

करण जौहर भी पापा जौहर बन गए।  उन्होंने सरोगेसी के ज़रिये जुडवा बच्चों- एक लड़का और के लड़की- को जन्म दिया है ।  करण जौहर ने बेटे का नाम अपने पिता के नाम पर यश और बेटी का नाम  माँ हीरू के नाम को उलट कर रूही रखा है।  इससे पहले तुषार कपूर ने भी शादी करने के बजाय सरोगेसी के ज़रिये एक बच्चे को जन्म दिया। तुषार के माता पिता ने भी तुषार के इस निर्णय का समर्थन किया। इस लडके का नाम लक्ष्य रखा गया है।  लेकिन, करण जौहर और तुषार कपूर पहले बॉलीवुड सेलब्रिटी नहीं है, जिन्होंने इस तरह से बच्चे पैदा किये या गोद लिए।  अलबत्ता इन दोनों ने बिना शादी किये ही बच्चे पैदा किये।  आइये जानते हैं कि ऐसी कौन सी सेलिब्रिटी हैं, जिन्होंने शादी के अलावा अन्य ज़रिये से बच्चे प्राप्त किये -
इन्होंने भी लिया कृत्रिम गर्भाधान का सहारा 
हिंदी फिल्मों की कोरियोग्राफर और फिल्म निर्देशक फराह खान ४३ साल की उम्र में माँ बनी।  फराह खान ने २००४ में फिल्म निर्देशक, संपादक और पटकथा लेखक शिरीष कुंदर से विवाह किया था।  उन्होंने २००८ में एक साथ तीन बच्चों- लडके ज़ार और बेटी दिव्या और अन्या को जन्म दिया।  फराह के इन तीनों बच्चों का जन्म  आईवीएफ तकनीक से गर्भाधान करवा कर ही संभव हो सका।  फराह खान ने मज़ाकिया लहज़े में कहा भी था, "नो पिज़्ज़ा मैन हैज डेलिवर्ड देम। " आमिर खान ने दो हिन्दू लड़कियों से निकाह किया।  १९८६ में पहली पत्नी रीना दत्ता से आमिर खान को दो बच्चे जुनैद (बेटा) और इरा (बेटी) है।  आमिर ने २००२ में रीना को तलाक़ दे दिया।  उन्होंने २००५ में एक असिस्टेंट डायरेक्टर किरण राव के साथ २००५ में निकाह किया।  किरण ने २०११ में आईवीएफ सरोगेसी के ज़रिये एक बेटे को जन्म दिया।  इस बच्चे का नाम आज़ाद राव खान रखा गया है।
शाहरुख़ खान ने अपनी बचपन की दोस्त गौरी छिब्बर के साथ १९९१ में शादी की थी।  इन दोनों के दो जैविक बच्चे आर्यन (१९९७)और सुहाना (२०००) हैं।  इसके बावजूद शाहरुख़ खान और गौरी ने २०१३ में सरोगेसी के ज़रिये एक और बेटे को जन्म दिया।  इस बच्चे का नाम अबराम रखा गया है।
शादी के बाद गोद लिया
फिल्म डायरेक्टर निखिल अडवाणी ने अपनी कॉलेज की दोस्त सुपर्ण गुप्ता से प्रेम विवाह किया था।  इन दोनों ने एक लड़की केया को गोद ले रखा है।  एक्टर समीर सोनी और नीलम कोठारी की पहली शादी असफल  हो गई थी।  इन दोनों ने २०११ में विवाह कर लिया।  इस जोड़े ने बच्चे के लिए इंतज़ार करने के बजाय एक लड़की (आहना) को गोद ले लिया।  डायरेक्टर दिबाकर  बनर्जी और उनकी पत्नी ऋचा की इच्छा थी कि उनके एक बेटी हो।  इसलिए  दोनों  ने अनाथालय से एक लड़की को गोद ले लिया।  सुभाष  घई के प्रोडक्शन हाउस को सम्हालने वाली लड़की मेघना, सुभाष घई और रेहाना घई की गोद ली हुई बेटी हैं।
शादी से पहले ही बनी माँ
अभिनेत्री रवीना टंडन ने २००४ में फिल्म वितरक अनिल थडानी से शादी की थी।  लेकिन, रवीना टंडन इस शादी से काफी पहले माँ बन चुकी थी।  उन्होंने १९९५ में दो बच्चियों छाया (११ साल) और पूजा (८ साल) को गोद ले लिया था।  अनिल से शादी के बाद रवीना टंडन के दो बच्चे बेटी राशा और बेटा रणबीरवर्द्धन हुए।  पिछले साल रवीना टंडन की पहली बेटी छाया की शादी एक कैथोलिक  लडके के साथ हुई।  मिस यूनिवर्स १९९४ सुष्मिता सेन ने भी बिन ब्याही माँ का उदाहरण पेश किया।  उन्होंने २५ साल की उम्र में एक लड़की रेनी को सन २००० में गोद लिया।  इस माँ यूनिवर्स ने २०१० में फिर एक तीन महीने की लड़की को गोद लिया।  इस लड़की का नाम अलीशा रखा गया।
बच्चों के बाद भी एक बच्चा 
बॉलीवुड फिल्म पटकथा लेखक सलीम खान ने १९६४ में सुशीला चरक से शादी की थी।  इस शादी से उनके तीन बेटे सलमान खान, अरबाज़ खान और सोहैल खान तथा एक बेटी अलवीरा खान पैदा हुई।  सलीम खान ने फुटपाथ में मर गई एक औरत की बच्ची को गोद लिया तथा इसे अपने बच्चों की तरह पाला पोसा और  नाम दिया।  इस लड़की का नाम अर्पिता खान रखा।  पिछले साल अर्पिता  की शादी शादी हिमांचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री सुखराम के बेटे के साथ हुई।  इसी प्रकार से, सलीम खान के बेटे सोहैल खान ने १९९८ में फैशन डिज़ाइनर सीमा सचदेव से शादी की। २००१ में इस जोड़े के घर के लडके निर्वाण का जन्म हुआ।  दस साल बाद इस जोड़े ने सरोगेसी के ज़रिये एक दूसरे लडके योहान को जन्म दिया।
राहुल बोस और प्रीटी जिंटा के दर्जनों बच्चे 
राहुल बोस और प्रीटी जिंटा को बच्चों से बेहद प्यार हैं।  इसके लिए इन दोनों  ने शादी कर बच्चे पैदा करने बजाय गोद लेने का रास्ता अपनाया।  राहुल बोस अंडमान एंड निकोबार आइलैंड में चैरिटी संगठन चलाते हैं।  उन्होंने इस द्वीप समूह के आधा दर्जन बच्चे गोद ले रखे हैं।  वह इन सभी को आंध्र प्रदेश के अच्छे स्कूलों में पढ़ा रहे हैं।  प्रीटी जिंटा ने ऋषिकेश के एक स्कूल के ३४ बच्चों को गोद ले रखा है।  वह इन सभी बच्चों का पूरा खर्च उठाती हैं।  समय समय पर वह इन बच्चों से मिलती भी रहती हैं।
इनके आँगन में नहीं गूंजी किलकारी 
बॉलीवुड के कुछ सेलिब्रिटी ऐसे भी हैं, जिन्हें शादी के बाद बच्चे नहीं हुए।   लेकिन, उन्होंने इसकी परवाह नहीं की।  इन जोड़ों ने न सरोगेसी  बच्चे पाने की कोशिश की, न किसी को गोद लिया।  दिलीप कुमार और सायरा बानू की जोड़ी एक ऎसी ही जोड़ी है।  दिलीप कुमार ने १९६६ में फिल्म अभिनेत्री सायरा बानू  से निकाह किया था।  परंतु ५१ साल बाद भी इनके कोई बच्चा नहीं है।  बताते चलें कि सायरा बानू उम्र में दिलीप कुमार से २२ साल छोटी हैं।  शबाना आज़मी और जावेद अख्तर ने  १९८४ में शादी की थी।  इन के भी कोई औलाद नहीं है।  शबाना आज़मी जावेद अख्तर के हनी ईरानी से बच्चों फरहान और ज़ोया को ही औलाद की तरह मानती हैं।  अनुपम खेर और किरण खेर ने १९८४ में शादी की थी।  इन दोनों की कोई औलाद नहीं है।  अलबत्ता किरण खेर की पहली शादी  (गौतम बेरी) से एक बेटा सिकंदर है।  स्वर्गीय मीना कुमारी ने १९५२ में उम्र में १५ साल बड़े फिल्मकार कमाल अमरोही से निकाह किया था।  मीना कुमारी को कमाल अमरोही से कोई संतान नहीं हुई। कहा जाता है कि कमाल अमरोही ने मीना कुमारी के साथ शादी इसी शर्त पर की थी कि उनके कोई बच्चा नहीं होगा।  किशोर कुमार और मधुबाला के भी कभी कोई बच्चा नहीं हुआ।  सभी जानते हैं कि मधुबाला को टीबी थी।  साधना और आरके नय्यर के भी कोई बच्चा नहीं हुआ।  आशा भोंसले और आरडी बर्मन की भी कोई औलाद नहीं हुई।  राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार विजेता अभिनेत्री रेहाना सुलतान और निर्देशक बीआर इशारा के भी कोई औलाद नहीं हुई।  

राजेंद्र कांडपाल 

No comments:

Post a Comment