Saturday, 14 January 2017

जेंडर केज की वापसी के बहाने दीपिका पादुकोण

हॉलीवुड अभिनेता विन डीजल एक बार फिर जेंडर केज के खोल में नज़र आने जा रहे हैं।  वह डी जे कारुसो निर्देशित एक्शन फिल्म एक्सएक्सएक्स : रिटर्न ऑफ़ जेंडर केज में एक बार फिर एजेंट एक्सएक्सएक्स जेंडर केज के किरदार में नजर आएंगे। विन डीजल ने २००२ में पहली बार  फिल्म एक्सएक्सएक्स में जेंडर केज के किरदार को परदे पर सजीव किया था।  जेंडर केज तेज़ गति से भारी गाड़िया चलाने में माहिर खिलाडी, स्टन्टमैन और विद्रोही प्रकृति का अथलीट था, जिसे अनजाने में एक अपराध में भागीदारी करने के कारण बेमन से नेशनल सिक्योरिटी एजेंसी के लिए एजेंट का काम करना पड़ा था।  उसे सेंट्रल यूरोप में रूसी आतंकियों के खात्मे के मिशन पर भेजा जाता है।  इस फिल्म के डायरेक्टर रॉब कोहेन थे, जो एक साल पहले द फ़ास्ट एंड द फ्यूरियस (२००१) में विन डीजल को डायरेक्ट कर चुके थे।  ७० मिलियन डॉलर से बनी इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर २७७.४ मिलियन डॉलर का ग्रॉस किया था।  २००५ में इस फिल्म का सीक्वल ट्रिपल एक्स : स्टेट ऑफ़ द यूनियन बनाया गया।  लेकिन इस फिल्म में न तो विन डीजल थे और न ही फिल्म का डायरेक्शन रॉब कोहेन कर रहे थे।  उस समय विन डीजल द पसिफियर में व्यस्त थे और कोहेन स्टील्थ का निर्देशन कर रहे थे। इसलिए ली तमहोरी के निर्देशन में आइस क्यूब को ट्रिपल एक्स बना दिया गया।  लेकिन वह फिल्म के जेंडर केज नहीं थे, बल्कि वह एजेंट डारियस स्टोन बने थे।  यह फिल्म असफल साबित हुई।  ८७ मिलियन डॉलर में बनी यह फिल्म वर्ल्डवाइड  केवल ७१ मिलियन डॉलर का ग्रॉस ही कर सकी।
जेंडर केज की वापसी
अब ट्रिपल एक्स सीरीज की तीसरी फिल्म रिटर्न ऑफ़ जेंडर केज में विन डीजल की ओरिजिनल एजेंट जेंडर केज के बतौर वापसी हो रही है।  यह फिल्म हॉलीवुड के घरेलु बाजार सहित पूरी दुनिया में २० जनवरी को रिलीज़ हो रही है।  परंतु  भारत में यह ६ दिन पहले यानि १४  जनवरी को रिलीज़ हो रही है।  इस फिल्म को थ्रीडी और आईमैक्स के अलावा २डी प्रभाव के साथ अंग्रेजी के अलावा हिंदी, तमिल और तेलुगु में भी डब कर रिलीज़ किया जा रहा है।  इसमे कोई शक़ नहीं कि हॉलीवुड अभिनेता विन डीजल  अपनी एक्शन फिल्मों, ख़ास तौर पर फ़ास्ट एंड फ्यूरियस सीरीज की फिल्मों के कारण भारत में भी पहचाना जाता है।  उनकी फिल्मों के प्रति भारतीय दर्शकों में क्रेज रहता है।  पहली फिल्म एक्सएक्सएक्स को भी हिंदुस्तानी दर्शकों ने पसंद किया था।  परंतु, रिटर्न ऑफ़ जेंडर केज भारतीय दर्शकों के लिए ख़ास विन डीजल के कारण नहीं।  इस फिल्म में विन डीजल के साथ डॉनी येन, टोनी जा, सैमुएल एल जैक्सन, नीना डोब्रेव, रूबी रोज, टोनी कॉलेट, निकी जैम, क्रिस वू, रोरी मैकैन, आदि सितारों की भरमार है।
दीपिका पादुकोण है ख़ास 

लेकिन भारतीय दर्शकों के लिए ख़ास होंगी दीपिका पादुकोण, जो फिल्म में सेरेना उंगेर का किरदार कर रही हैं।  फिल्म की कहानी जेंडर केज के इर्दगिर्द ही बनी गई है, जो लंबे स्वनिर्वासन के बाद वापसी कर रहा है।  उसे खलनायक जियांग के खतरनाक हथियार पैंडोरा बॉक्स को छीनना है।  उसके इस मिशन में उसके कई साथी हैं।  लेकिन, जेंडर केज उस समय खतरे में फंस जाता है, जब वह दुनिया की भ्रष्ट सरकारों के चंगुल में आ जाता है।  कहानी से साफ़ है कि रिटर्न ऑफ़ जेंडर केज में जेंडर केज यानि विन डीजल का किरदार ही ख़ास होगा।  लेकिन फिल्म में चीन सहित एशियाई बाजार को हथियाने के लिए देसी एक्टर्स का भी इस्तेमाल किया गया है।  चीन और थाईलैंड के दर्शकों के लिए अन्य सितारों के अलावा जेट ली और टोनी जा हैं।  हिंदुस्तानी बाज़ार को आकर्षित करने के लिए ही दीपिका पादुकोण को लिया गया है।  दीपिका पादुकोण बॉलीवुड की बड़ी अभिनेत्रियों में से एक हैं।  ख्याल रहे कि २०१३ में दीपिका पादुकोण ने विन डीजल की फिल्म फ्यूरियस ७ को संजय लीला भंसाली की फिल्म रामलीला के लिए ठुकरा दिया था।  सूत्रों के अनुसार फिल्म में दीपिका पादुकोण को विन डीजल के किरदार की मदद करने वाली हैकर का किरदार करना था।
इंटरनेशनल इमेज के लिए दीपिका
दीपिका पादुकोण ने बेशक संजयलीला भंसाली की फिल्म के लिए विन डीजल की फिल्म ठुकरा दी थी।  यह दीपिका का सही निर्णय था।  गोलियों की रास लीला : रामलीला सुपर हिट साबित हुई थी।  दीपिका बॉलीवुड की बड़ी एक्ट्रेस में शुमार हो गई थी।  लेकिन आज मंज़र काफी बदला हुआ है।  भंसाली की फिल्म पद्मावती ही उनकी ख़ास फिल्म है।  ऐसे में उन्हें हॉलीवुड की एक अदद फिल्म की ख़ास ज़रूरत है।  हॉलीवुड की फिल्म के ज़रिये वह बॉलीवुड को अपनी इंटरनेशनल इमेज दे सकती हैं, अपनी अहमियत जता सकती हैं।  हॉलीवुड
फिल्मों को एशियाई चेहरों की ज़रुरत होती है।  क्योंकि, उनके किरदार ही कुछ ऐसे होते हैं।  लेकिन यह तमाम किरदार सपोर्टिंग होते हैं।  फिल्म इन पर केंद्रित नहीं होती।  परंतु, इन एक्टर्स के देशों के दर्शक अपने एक्टरों को देखना चाहते हैं।  अब यह बात दीगर होती है कि ज़्यादातर उन्हें निराश होना पड़ता है।  ख़ास तौर पर भारतीय दर्शकों को।  इसके बावजूद भारतीय दर्शकों को पहली एक्सएक्सएक्स फिल्म से कहीं ज़्यादा रिटर्न ऑफ़ जेंडर केज का इंतज़ार है।  दीपिका पादुकोण को इस साल पद्मावती की रिलीज़ होने से पहले तक इसी फिल्म से याद किया जाता रहेगा।
दीपिका को प्रियंका है चुनौती 

इसके अलावा, दीपिका पादुकोण के लिए प्रियंका चोपड़ा भी चुनौती है।  प्रियंका चोपड़ा हॉलीवुड एक बड़ा नाम तो नहीं चर्चित एशियाई नाम ज़रूर बन गई हैं।  स्पाई थ्रिलर सीरीज क़्वान्टिको की अलेक्स पारिश के किरदार में उन्होंने अपनी सेक्स अपील का डंका बजा दिया है।  वह टेबलायड और चैनल्स पर चर्चित हो रही हैं अब क़्वान्टिको २ का निर्माण भी किया जा रहा है।  वह समुद्र के किनारे गश्त करने वाले दल की एक्शन कॉमेडी
सीरीज बेवॉच के फिल्म संस्करण में विक्टोरिया लीडस् के खल किरदार को कर रही हैं।  प्रियंका चोपड़ा यूनिसेफ की गुडविल एम्बेसडर भी हैं।  ज़ाहिर तौर पर प्रियंका चोपड़ा दुनिया में एक बड़ा नाम बनती जा रही हैं।  किसी भी बॉलीवुड एक्ट्रेस के लिए प्रियंका चोपड़ा की यह सफलता जलन का कारण बन सकती हैं।  इसीलिए दीपिका पादुकोण हॉलीवुड में भी खुद को
साबित करना चाहती हैं।  वह सुपर मॉडल हैं।  उनकी देह संतुलित है।  हॉलीवुड फिल्मों को ऎसी देह् रास आती हैं।  यह देखने वाला होगा कि वह सेरेना उंगेर के किरदार से दुनिया के दर्शकों के बीच कितना चर्चित हो पाती हैं।  ख़ास बात यह है कि सेरेना का यह किरदार ट्रिपल एक्स मूवीज के दर्शकों के लिए पहली बार है।
फिलहाल दीपिका पर भारी प्रियंका 
फिलहाल तो दीपिका पादुकोण पर प्रियंका चोपड़ा भारी पड़ती नज़र आ रही है।  वह पूरे हॉलीवुड में नामचीन हैं। जबकि दीपिका पादुकोण को सेरेना से खुद को साबित करना है।  प्रियंका का अलेक्स का किरदार सेक्सी था।  इस किरदार में एक्शन भी था।  प्रियंका रोल भी अपेक्षाकृत बड़ा था।  ख़ास बात यह भी है कि अमेरिकी दर्शकों में टीवी सीरीज भी सामान रूप से लोकप्रिय होती हैं।  हॉलीवुड के बड़े एक्टर इसमे काम करते हैं।  प्रियंका चोपड़ा के उभरे होंठ और ताम्बई रंग की देह
हॉलीवुड के दर्शकों को आकर्षित करती है।  दीपिका पादुकोण में प्रियंका चोपड़ा वाली यह खासियत नहीं।  वह रिटर्न ऑफ़ जेंडर केज में अंग प्रदर्शन और एक्शन करती नज़र आती हैं।  लेकिन इतना ही काफी नहीं होगा।  हॉलीवुड फिल्मों की नायिका कपडे उतारने को हमेशा तैयार रहती हैं।  धुंआधार एक्शन कर सकने वाली ढेरों एक्टर हॉलीवुड में मौजूद हैं।  दीपिका पादुकोण क्या ख़ास देने जा रही हैं ? हॉलीवुड दर्शक यह जानना चाहेगा।  इस लिहाज़ से प्रियंका चोपड़ा बाज़ी मार ले जाती हैं।  वह बेवॉच में भी एक सेक्सी और खल किरदार कर रही हैं।  ऐसे किरदार दर्शकों को आसानी से आकर्षित कर पाते हैं।  हिंदी दर्शक भी कुछ अलग नहीं।

अल्पना कांडपाल

No comments:

Post a Comment