Wednesday, 4 January 2017

'रईस' के साथ चर्चा के 'काबिल' 'कॉफ़ी विथ डी'

फर्स्ट फ्राइडे जिंक्स से सहमा बॉलीवुड इस साल भी अपनी बड़े सितारों और बड़े बजट वाली फ़िल्में पहले शुक्रवार यानि ६ जनवरी २०१७ को बॉक्स ऑफिस पर नहीं उतार रहा है।  हालाँकि, आमिर खान की ऑन स्क्रीन पहलवान बेटियों के अखाड़े की धूल  बॉक्स ऑफिस पर छाई हुई है।  इसके बावजूद पहले शुक्रवार एक कम बजट वाली हिंदी फिल्म 'कॉफ़ी विथ डी' रिलीज़ होगी।  सुनील ग्रोवर, दीपानिता शर्मा, अंजना सुखानी और ज़ाकिर हुसैन की मुख्य भूमिका वाली इस कॉमेडी फिल्म की कहानी एक पत्रकार अर्नब के भारत के मोस्ट वांटेड अपराधी डी के इंटरव्यू लेने के कथानक पर केंद्रित है।  इस फिल्म का ट्रेलर काफी चर्चित हुआ था, क्योंकि फिल्म में अर्नब का किरदार कर रहे सुनील ग्रोवर इंग्लिश टीवी चैनल टाइम्स नाउ के अर्नब गोस्वामी की याद दिलाते थे। क्या  पहली बार फिल्म का निर्देशन कर रहे कानपुर उत्तर प्रदेश के सुनील मिश्र बॉलीवुड की फर्स्ट फ्राइडे जिंक्स को हरा पाएंगे ?
केवल छह हिंदी फ़िल्में
इसके बावजूद कि समूचे उत्तर भारत में ठण्ड अपने उतार पर होगी, जनवरी में कुल छह हिंदी फ़िल्में ही रिलीज़ होंगी।  इन आधा दर्जन हिंदी फिल्मों में तीन फ़िल्में ही ज़िक्र के काबिल हैं।  निर्देशक शाद अली की रोमांस ड्रामा फिल्म ओके जानू इसलिए कि इसमे आदित्य रॉय कपूर के साथ श्रद्धा कपूर गरमागरम रोमांस के काबिल नज़र आती हैं।  इस फिल्म का एक रीमिक्स गीत हम्मा हम्मा श्रद्धा कपूर के अंग प्रदर्शक और उत्तेजक भावभंगिमा वाले नृत्य के कारण चर्चा में आ गया है।   ओके जानू मणि रत्नम की तमिल फिल्म ओ काधाल कन्मनि का हिंदी रीमेक है।  यह फिल्म लिव-इन रिलेशनशिप में रह रहे युवा जोड़े आदित्य और तारा की कहानी है।  फिल्म में बूढ़े मकान मालिक लीला सेमसन और नसीरुद्दीन शाह का भी एंगल है। लीला सेमसन सेंसर बोर्ड की चेयरपर्सन रह चुकी हैं।  ओके जानू से उनका एक्टिंग डेब्यू हो रहा है।  आदित्य रॉय कपूर और श्रद्धा कपूर की जोड़ी की पहली फिल्म आशिक़ी २ सौ करोड़ क्लब में शामिल फिल्म है।  क्या यह जोड़ा एक बार फिर हिट होगा ? ध्यान रहे कि आदित्य रॉय कपूर की कैटरीना कैफ के साथ फिल्म फितूर बुरी तरह से पिटी थी।  ओके जानू १३ जनवरी को रिलीज़ हो रही है।
निर्देशक कोंकणासेन की पहली फिल्म 

इसी शुक्रवार कोंकणासेन शर्मा का डायरेक्टोरियल डेब्यू होगा।  फिल्म का नाम अ डेथ इन द गंज है।  इस फिल्म को कोंकणा ने ही लिखा है।  यह फिल्म ब्रिटिश शासकों द्वारा बसाये गए झारखण्ड के एक शहर की १९७९ की सर्द पृष्ठभूमि पर है, जब वहां एक मकान में रहने आये एक परिवार को आत्माओं का सामना करना पड़ता है। फिल्म में टीवी एक्टर विक्रांत मैसी, तिलोत्तमा शोम, गुलशन देवइया, ओमपुरी और तनूजा जैसे सितारे हैं। एक दूसरी चर्चित फिल्म हरामखोर भी १३ जनवरी को रिलीज़ हो रही है।  एक टीचर के अपनी छात्रा के साथ अवैध  सम्बन्ध वाली इस फिल्म को सेंसर बोर्ड ने पारित करने से मना कर दिया था।  बाद में फिल्म अपीलेट ट्रिब्यूनल द्वारा पास की गई।  फिल्म में नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी टीचर की भूमिका में हैं।
बॉक्स ऑफिस पर सोना बरसता है
रिपब्लिक डे वीकेंड अब सोना बरसाने वाला वीकेंड बन चूका है।  पिछले पांच सालों के रिपब्लिक डे वीकेंड के बॉक्स ऑफिस का जायजा लें तो यह वीकेंड बॉक्स ऑफिस पर सोना  बरसाने वाला वीकेंड साबित होता है। २०१२ में हृथिक रोशन, संजय दत्त, प्रियंका चोपड़ा, ऋषि कपूर और कैटरीना कैफ के चिकनी चमेली आइटम वाली फिल्म अग्निपथ ने पहले दिन ही २१ करोड़ ७६ लाख की कीर्तिमान ओपनिंग की थी।  फिल्म ने वीकेंड में ६२ करोड़ से ज़्यादा का कलेक्शन
किया था।  २०१३ में अब्बास मस्तान की सीक्वल फिल्म रेस २ रिलीज़ हुई थी।  अनिल कपूर, जॉन अब्राहम, सैफ अली खान,  दीपिका पादुकोण, जैक्विलिन फ़र्नान्डिस और अमीषा पटेल अभिनीत यह फिल्म २५ जनवरी को रिलीज़ हुई थी।  इस फिल्म ने १४.३ करोड़ की ओपनिंग ली थी।  फिल्म का वीकेंड बिज़नस ६० करोड़ से अधिक का हुआ था।  २०१४ को २४ जनवरी को सलमान खान की फिल्म जय हो रिलीज़ हुई थी। जय हो का पहले दिन का कलेक्शन १८.८ करोड़ का था।  फिल्म वीकेंड ६०.६ करोड़ का रहा।  २०१५ में अक्षय कुमार की स्पाई थ्रिलर फिल्म बेबी के सामने सोनम कपूर और पाकिस्तान के फवाद खान की कॉमेडी ड्रामा फिल्म डॉली की डोली रिलीज़ हुई थी।  इस टकराव के बावजूद बेबी ने ३६ करोड़ का कलेक्शन किया।  डॉली की डोली महज़ १९ करोड़ ही कमा सकी।  पिछले साल रिपब्लिक डे मंगलवार को था।  इसलिए,
इस दिन के पहले और बाद के दो शुक्रवार यानि २२ जनवरी और २९ जनवरी को दो एडल्ट कॉमेडी फ़िल्में क्या कूल हैं हम ३ और मस्तीज़ादे रिलीज़ हुई।   दोनों ही फ़िल्में बेहद घटिया स्तर की कॉमेडी वाली फ़िल्में थी।  लेकिन, तुषार कपूर, आफताब शिवदासानी और मंदना करीमी की फिल्म क्या कूल है हम ३ के मुकाबले सनी लियॉन के साथ तुषार कपूर और वीर दास की फिल्म मस्तीज़ादे ने।  हालाँकि, यह दोनों ही फ़िल्में सुपर फ्लॉप फिल्मों में  शुमार हैं। ज़ाहिर है कि पिछले पांच सालों में रिपब्लिक डे वीक बड़े बजट की फिल्मों के लिए फायदे वाला वीकेंड है।
सर्दी को गर्म करने वाला टकराव 

इस साल उतरती सर्दियों वाले जनवरी को गर्म करेगा दो बड़ी फिल्मों का टकराव।  हृथिक रोशन की एक्शन ड्रामा फिल्म काबिल २५ जनवरी को रिपब्लिक डे वीकेंड पर रिलीज़ हो रही है।  यही कारण है कि हृथिक रोशन की फिल्म काबिल के साथ टकराने के लिए शाहरुख़ खान की फिल्म रईस तैयार है। डायरेक्टर संजय गुप्ता की फिल्म काबिल के अंधे व्यक्ति द्वारा अपनी मंगेतर की बलात्कार के बाद हत्या करने वालों से बदला लेने की कहानी है।  इस फिल्म को दो फिल्मों कोरियाई फिल्म ब्रोकन और नेटफ्लिक्स की फिल्म डेयरडेविल का चर्बा बताया जा रहा है। इन दोनों ही फिल्मों के नायक अंधे थे।  इस अंधे नायक से डॉन का टकराव हो रहा है।
राहुल ढोलकिया निर्देशित रईस गुजरात के एक शराब तस्कर के डॉन बनने की कहानी है। बजट के लिहाज़ से दोनों ही फ़िल्में बराबरी रखती हैं।  रईस और काबिल में नायिका का कोई महत्व नहीं। यह दोनों ही फ़िल्में अपने नायकों हृथिक रोशन और शाहरुख़ खान के कन्धों पर चढ़ी हुई बॉक्स ऑफिस की वैतरणी पर करना चाहती हैं। क्या दो फिल्मों का टकराव बॉक्स ऑफिस पर सोन बरसायेगा ? क्या रिपब्लिक डे वीकेंड फिर से बड़े सितारों को फलेगा ?


राजेंद्र कांडपाल 

No comments:

Post a Comment