Wednesday, 28 June 2017

कार्तिका नायर : छोटे परदे की देवसेना

बहल भाई-बहन ( गोल्डी और सृष्टि)  के बैनर के ऐतिहासिक  सीरियल आरम्भ हो चुका है। आर्य और द्रविड़ जातियों के बीच प्रागैतिहासिक टकराव पर इस सीरियल को बाहुबली के लेखक के०वी० विजयेन्द्र प्रसाद ने लिखा है।  इस लिए सीरियल में दर्शक आरम्भ में भी बाहुबली को देखना चाहता है।  इसी के अनुरूप सीरियल में ज़बरदस्त युद्ध दृश्य हैं।  फिल्म द्रविड़ नेत्री देवसेना और आर्य पुत्र वरुणदेव के बीच टकराव की है।  सीरियल में वरुणदेव का किरदार अभिनेता रजनीश दुग्गल कर रहे हैं, जो हिंदी हॉरर फिल्मों से अधिक पहचाने जाते हैं।  फिल्म में काजोल की माँ और अजय देवगन की सास तनूजा भी द्रविड़ सिंहासन की सुरक्षा करने वाली शक्ति हहुम्मा बनी है।  लेकिन, ख़ास है द्रविड़ साम्राज्य की रानी देवसेना के किरदार को करने वाली अभिनेत्री कार्तिका नायर।  २७ जून १९९२ को जन्मी कार्तिका की माँ राधा भी दक्षिण की  मलयालम फिल्मों की बड़ी एक्ट्रेस रही हैं।  हिंदी दर्शकों ने राधा को तीन हिंदी फिल्मों त्रिनेत्र, फौलादी मुक्का और विकी दादा में देखा था।  कार्तिका की मौसी अम्बिका भी फिल्म एक्ट्रेस हैं।  कार्तिका की बहन तुलसी नायर ने मणिरत्नम की फिल्म कादल में अभिनय किया था।  इन्ही लोगों के नक़्शे कदम पर चलते हुए कार्तिका के फिल्म करियर की शुरुआत भी नाग चैतन्य के साथ तेलुगु फिल्म जोश (२००९) से हुई थी।  नाग की भी यह पहली फिल्म थी।  जीवा के साथ पोलिटिकल थ्रिलर तमिल फिल्म को (राजा) ने कार्तिका को दक्षिण की इंडस्ट्री में जमा दिया।  कार्तिका अब तक नौ तमिल, तेलुगु, मलयालम और कन्नड़ फ़िल्में कर चुकी हैं।  आरम्भ उनका पहला हिंदी प्रोजेक्ट है।  क्या कार्तिका को भी बाहुबली की देवसेना अनुष्का शेट्टी की तरह सफलता मिलेगी ?

  

No comments:

Post a Comment