Saturday, 10 June 2017

तीस मिनट से ज़्यादा नहीं खड़ी रह सकती थी स्नेहा उल्लाल

२००५ में, सलमान खान की एक फिल्म आई थी लकी : नो टाइम फॉर लव आई थी।  इस फिल्म का निर्देशन राधिका राव और विनय सप्रू की कोरियोग्राफर जोड़ी ने किया था।  पैसठ करोड़ में बनी बुरी तरह फ्लॉप इस फिल्म की खासियत थी ऐश्वर्या राय की हमशक्ल अभिनेत्री स्नेहा उल्लाल।  सलमान खान की नायिका बनाने के बावज़ूद स्नेहा उल्लाल का करियर रफ़्तार नहीं पकड़ सका।  स्नेहा ने आर्यन, काश....मेरे होते और क्लिक जैसी फिल्मों के अलावा कुछ तेलुगु फ़िल्में भी की।  फिर यकायक स्नेहा उल्लाल सिल्वर स्क्रीन से नदारद हो गई।  सोशल साइट्स पर उनकी तस्वीरें तो नज़र आती थी, लेकिन उनकी फिल्म का कोई ज़िक्र नहीं मिलता था।  क्या कारण था कि स्नेहा उल्लाल परदे से यकायक गायब हो गई।  दरअसल, स्नेहा उल्लाल ऑटो-इम्यून डिसऑर्डर का शिकार हो गई थी।  इस बीमारी का मरीज़ तीस मिनट से अधिक खड़ा नहीं हो सकता है।  इसलिए स्नेहा उल्लाल का स्क्रीन से नदारद हो जाना उनकी  मज़बूरी थी।  अब स्नेहा उल्लाल अपनी बीमारी से उबर चुकी है। इसलिए, अब वह फिल्मों में वापसी की तैयारी कर रही हैं।  उनकी वापसी फिल्म तेलुगु भाषा में आयुष्मान भव होगी।  इस फिल्म में स्नेहा उल्लाल की दोहरी भूमिका है।  फिल्म का निर्देशन चरण तेज कर रहे हैं।

No comments:

Post a Comment