Sunday, 9 July 2017

अब पोता करेगा 'इत्तेफाक', भारत में वाइसराय हाउस नहीं पार्टीशन १९४७,राजन शाही की लव सेक्स एंड वियाग्रा गुजरात में शादी विथ जुगाड़,संदीप और पिंकी फरार !, महिलाओं के लिए प्रिटी जिंटा की कवच सेफ्टी

अब पोता करेगा 'इत्तेफाक'
बीआर चोपड़ा ने १९६९ में एक सस्पेंस क्राइम थ्रिलर फिल्म इत्तफाक का निर्माण किया था। यह फिल्म ब्रिटिश फिल्म साइनपोस्ट टू मर्डर (१९६५) का रीमेक थी । नंदा, राजेश खन्ना और सुजीत कुमार की इस फिल्म का निर्देशन उनके भाई यश चोपड़ा ने किया था।  बिना गीतों वाली यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर हिट हुई थी। अब ३८ साल बाद, इस फिल्म के रीमेक के लिए बॉलीवुड के दिग्गज बैनर साथ आये हैं । रेड चिलीज एंटरटेनमेंट, धर्मा प्रोडक्शनस और बीआर स्टूडियोज द्वारा इत्तफाक का रीमेक बनाया जा रहा है । इस फिल्म का नाम इत्तफाक हैप्पनड वन नाईट होगा। फिल्म में राजेश खन्ना वाली भूमिका सिद्धार्थ मल्होत्रा और नंदा वाली भूमिका सोनाक्षी सिन्हा कर रही हैं । फिल्म का निर्देशन बीआर चोपड़ा के पोते और महाभारत वाले रवि चोपड़ा के बेटे अभय चोपड़ा कर रहे हैं । अभय ने करीब, संघर्ष, हरीभरी और मिशन कश्मीर जैसी फिल्मों में अभिनय किया है । बाबुल और भूतनाथ रिटर्न्स में वह अपने पिता रवि चोपड़ा के सहयोगी थे । २०१७ में बनाई जा रही इत्तफाक के रीमेक के लिए करण जौहर और अभय चोपड़ा ने कुछ आजादी ली है । फिल्म का अंत ठीक वही नहीं होगा, जो १९६९ की इत्तफाक में था । फिल्म में गाने भी होंगे । पहली बार होगा कि सिद्धार्थ मल्होत्रा और सोनाक्षी सिन्हा एक साथ कोई फिल्म करेंगे । यह फिल्म इस साल ३ नवम्बर को रिलीज़ हो रही है ।
भारत में वाइसराय हाउस नहीं पार्टीशन १९४७
इस साल फरवरी से गुरिंदर चड्ढा की फिल्म वाइसराय हाउस का प्रचार शुरू  हो गया  था।  इस फिल्म की कहानी विभाजन के कगार पर खड़े भारत के ब्रितानी शासन के आखिरी वाइसराय को बंटवारे के दौरान पेश दुश्वारियों की तो है ही,  इसके साथ एक प्रेम कहानी भी जुड़ी हुई है । फिल्म में ज़्यादातर कास्ट हॉलीवुड की है । गिलियन एंडरसन ने लेडी एडविना, ह्यू बॉनविले ने लार्ड लुइस माउंटबेटन, माइकल गैम्बन ने जनरल हेस्टिंग्स का किरदार किया   है । फिल्म में हिन्दुस्तानी कलाकारों में ओमपुरी ने अली रहीम नूर और हुमा कुरैशी ने वाइसराय की अनुवादक आलिया नूर का किरदार किया है । हिंदी दर्शकों के पहचानने के लिहाज़ से सारा- जेन डिआस को समीरा और गाँधी, माय फादर के गाँधी दर्शन ज़रीवाला को गुप्ता जी के किरदार में देखा जा सकता है । ज़ाहिर है कि इस स्टार कास्ट के साथ वाइसराय हाउस भारतीय दर्शकों के बीच विदेशी फिल्म ही साबित होती, जो किसी भी लिहाज़ से बड़ी संख्या में दर्शको को आकर्षित नहीं कर सकती थी । शायद इसे देखते हुए ही कि हिंदुस्तान में फिल्म का टेम्पो बन नहीं पा रहा है, फिल्म के टाइटल को ही बदल दिया गया है । अब गुरिंदर चड्ढा की फिल्म वाइसराय हाउस सिर्फ भारत में पार्टीशन १९४७ के टाइटल के साथ रिलीज़ होगी । यह टाइटल दर्शकों में कितनी सुगबुगाहट पैदा कर सकेगा, यह तो भविष्य ही बतायेगा  । 
राजन शाही की लव सेक्स एंड वियाग्रा
राजन शाही की शोहरत सपना बाबुल का...विदाई, अमृत मंथन और ये रिश्ता क्या कहलाता है जैसे पारिवारिक शो बनाने वाले निर्माता की है । इसीलिए, उन्हें जानने वाले उस समय चौंक पड़े थे, जब उन्होंने शॉर्ट फिल्म लव सेक्स एंड वियाग्रा बनाने का ऐलान किया । दरअसल, पारिवारिक ड्रामा सीरियल बनाने वाली उनकी टीम का सुझाव था कि कोई शॉर्ट फिल्म बनाई जाये, जिसमे पारिवारिक दर्शकों की पसंद का विषय देने की अनिवार्यता नहीं होती  । शायद राजन शाही को आभास था कि दर्शकों के बीच उनके बैनर डायरेक्टर्स कट प्रोडक्शनस और लोगो की एक इमेज है । इस इमेज से बाहर निकलना खतरनाक हो सकता था । इसलिए लव सेक्स और वियाग्रा के लिए फर्स्ट कट प्रोडक्शनस की स्थापना की गई । नया लोगों भी तैयार किया गया । इस बैनर के तहत भिन्न आइडियाज वाले शो तैयार किये जायेंगे । फिलहाल तो राजन शाही के लव सेक्स और वियाग्रा के प्रोमो को दर्शकों द्वारा पसंद किया जा रहा है ।
संदीप और पिंकी फरार !
पांच साल पहले, यशराज फिल्म्स की हबीब फैसल निर्देशित फिल्म इशकज़ादे में परिणीति चोपड़ा और अर्जुन कपूर की जोड़ी ने कमाल कर दिया था।  यह फिल्म बड़ी हिट फिल्म साबित हुई थी।  इस सफल फिल्म के बावजूद परिणीति चोपड़ा और अर्जुन कपूर फिर एक साथ नहीं आ सके।  अब पांच साल बाद यह जोड़ी दिबाकर बनर्जी की फिल्म संदीप और पिंकी फरार में पिंकी और संदीप के किरदार कर रहे हैं।  इस फिल्म की कहानी बड़ी दिलचस्प है।  यह कहानी बिलकुल भिन्न भारत के लड़का लड़की की है, जो साथ इसलिए हैं कि वह एक दूसरे पर अविश्वास करते हैं, संदेह से देखते हैं और नफ़रत करते हैं।  यह कहानी दिबाकर बनर्जी के रंगों से रंगी होगी, इसलिए निश्चित ही दिलचस्प होगी।  इस ड्रामेटिक थ्रिलर फिल्म के बारे में दिबाकर बनर्जी कहते हैं,"यह मेरे लिए जैसे पहली फिल्म है।  मुझे इस फिल्म को करने में अब तक जो कुछ सीखा है, भूलना होगा।  क्योंकि, यह कहानी ऐसे दो लोगों की है, जो एक दूसरे से नफ़रत भी करते हैं और एक दूसरे के बिना रह भी नहीं सकते।" अर्जुन कपूर की पांच साल बाद यशराज बैनर और परिणीति चोपड़ा के साथ वापसी हो रही है।  इस बात से खुश अर्जुन कपूर कहते हैं, "दिबाकर बनर्जी न्यू एज सिनेमा के टॉर्च बेयरर हैं।  मैं दिबाकर और परिणीति के साथ फरार होने को तैयार हूँ।" दिबाकर बनर्जी के साथ फिल्म करना परिणीत चोपड़ा और अर्जुन कपूर का सपना था।  परिणीति कहती हैं, "दिबाकर की फ़िल्में हमेशा अलग होती हैं और दर्शकों पर प्रभाव छोड़ती है।"
 गुजरात में शादी विथ जुगाड़
कई विज्ञापन, टीवी सीरियल और फिल्मों में काम कर चुकी एकता जैन १२ साल के ब्रेक के बाद हिंदी में कॉमेडी फिल्म शादी विथ जुगाड़ में नज़र आएँगी। फिल्म में एकता जैन मराठी-क्रिस्चियन मेरी का किरदार कर रही हैं । इस फिल्म का निर्माण श्री सूत्रम एंटरटेनमेंट कर रहे है। फिल्म की पूरी शूटिंग गुजरात के गांधीनगर में होगी । फिल्म लव के फ़ंडे के अभिनेता हर्षवर्धन जोशी इस फिल्म में जिग्नेश का किरदार निभा रहे हैं। श्री राजपूत इस फिल्म में वैजंती का किरदार निभा रही हैं। उनकी आखिरी फिल्म मिस खिलाड़ी थी । इस फिल्म के लेखक निर्देशक आज़ाद भारती हैं । फिल्म के अन्य कलाकार में अजय सिंह, कुणाल मेहता, आकाश लापासिया, करेंन राजपूत, सुमति सोलंकी हैं । डी जे भारती ने फिल्म के सारे गीत कंपोज़ किये हैं ।
 महिलाओं के लिए प्रिटी जिंटा की कवच सेफ्टी

बॉलीवुड अभिनेत्री सिर्फ फिल्म एक्ट्रेस ही नहीं  । वह रेड एंड वाइट ब्रेवरी अवार्ड की विजेता हैं । अब प्रिटी जिंटा भारतीय महिलाओं की सुरक्षा के समग्र उपाय के साथ सामने आई हैं । उन्होंने स्पेशल फोर्सेज ऑस्ट्रेलिया के पूर्व अधिकारी अन्थोनी मूरहाउस के साथ कवच सेफ्टीकी स्थापना का ऐलान किया है । यह कवच सेफ्टी अपराधी विरोधी और पीड़ित की हर तरह से समर्थन करने वाली होगी । यह कवच एक बटन दबाने के बाद तुरंत आपदा सेवा देगी । यह कवच टीम पीड़ित को कानूनी मदद भी उपलब्ध करायेगी और उच्च गुणवत्ता वाली फॉरेंसिक टीम के साथ साक्ष्य भी जुटा कर देगी । मतलब यह कि कवच सेफ्टी हर प्रकार की सुरक्षा और सहायता उपलब्ध करायेगी । इस सेवा की उपलब्धता ४१८ रूपया महीने की मामूली फीस के लेकर उपलब्ध कराई जाएगी । कवच के बारे में बताते हुए प्रिटी जिंटा कहती हैं, “मैं कवच की स्थापना हर औरत को उसके दैनिक जीवन में असुरक्षा से छुटकारा दिलाने के लिए स्थापित की है । मुझे इसे करने में पांच लम्बे साल लग गए । मेरा मानना है कि औरतो को सुरक्षा उनका अधिकार है, कोई विशेषाधिकार नहीं । हमें उनकी मदद करनी चाहिए और सहयोग करना चाहिए ।“  

No comments:

Post a Comment