Friday, 30 June 2017

बॉलीवुड के हीरो साउथ की फिल्मों के विलेन

वेलाइल्ला पट्टाधारी यानि बेरोजगार स्नातक २०१४ में रिलीज़ तमिल फिल्म स्टार धनुष की तमिल कॉमेडी ड्रामा फिल्म थी।  इस फिल्म को वीआइपी के टाइटल से ज़्यादा लोकप्रियता मिली थी।  निर्देशक वेलराज की इस फिल्म के निर्माण में केवल ८ करोड़ खर्च हुए थे और फिल्म ने ५३ करोड़ का ग्रॉस किया था।  ज़ाहिर है कि यह बड़ी सफलता थी।  अब इस फिल्म का सीक्वल वीआईपी २ बनाया जा रहा है तो दक्षिण से उत्तर तक काफी हवा बह चुकी है । वीआईपी २ का निर्माण और निर्देशन रजनीकांत की बेटी सौंदर्य रजनीकांत  कर रही है। बाहुबली की रिलीज़ ने हॉलीवुड फिल्मों के बाद दक्षिण की फिल्मों के लिए रास्ते खोल दिए हैं।  इसलिए, वीआईपी २ को तमिल और तेलुगु के अलावा हिंदी में भी बनाया जा रहा है।  हिंदी  दर्शकों को आकर्षित करने के लिए फिल्म में हिंदी फिल्म अभिनेत्री काजोल को भी लिया गया है।  काजोल फिल्म में एक कॉर्पोरेट एग्जीक्यूटिव वसुंधरा परमेश्वर का किरदार कर रही हैं।  इस किरदार में निगेटिव शेड है।  एक तरह से कहा जा सकता है कि वह फिल्म की विलेन हैं।  फिल्म में धनुष एक ईमानदार सिविल इंजीनियर रघुवरन बने हैं।  ज़ाहिर है कि फिल्म में धनुष और काजोल के किरदारों का टकराव होगा।
पिछले दिनों फिल्म वेलाइल्ला पट्टाधारी २ (वीआईपी २) के संगीत के वीडियो और तमिल और तेलुगु ट्रेलर को मुंबई में भी रिलीज़ किया गया था।  फिल्म में काजोल का किरदार होने से हिंदी दर्शकों को फिल्म के प्रति उत्सुकता काफी बढ़ गई है।  इस फिल्म के ट्रेलर जारी होने के बाद तो जैसे पूरे हिंदुस्तान के दर्शकों को २८   जुलाई का इंतज़ार है, जब फिल्म रिलीज़ होगी।   वेलाइल्ला पट्टाधारी २ का यह जलवा तब है, जब हिंदी फिल्म अभिनेत्री काजोल इसकी नायिका नहीं, बल्कि वैम्प बनी है।  वास्तविकता तो यह है कि दक्षिण की फिल्मों में हिंदी फिल्म एक्टरों का दबदबा बढ़ा है।  यह भी कहा जा सकता है कि हिंदी फिल्म एक्टर साउथ की फ़िल्में करना भी चाहते हैं।  अब यह बात दीगर है कि तमाम बॉलीवुड सितारे साउथ के नायक को धमकाते नज़र आएंगे।  यानि हिंदी फिल्मों के बड़े स्टार अब दक्षिण की फिल्मों में विलेन का किरदार भी करने को तैयार हैं।  इधर ऐलान कुछ हिंदी फिल्मों से यह साफ भी होता है।
सबसे महँगी फिल्म के विलेन अक्षय कुमार
पिछले साल दक्षिण के डायरेक्टर शंकर ने हिंदी दर्शकों को अक्षय कुमार के एलियन चेहरे वाला पोस्टर जारी कर चौंका दिया था।  अक्षय कुमार का यह लुक शंकर की रजनीकांत अभिनीत फिल्म २.० का था।  यह फिल्म रजनीकांत की शंकर निर्देशित फिल्म एंधिरन (हिंदी में रोबोट) की सीक्वल फिल्म थी।  रोबोट में रजनीकांत ने एक रोबोट और उसके बनाने वाले डॉक्टर वशीकरण का किरदार किया था।  रोबोट को हिंदी बेल्ट में बढ़िया सफलता मिली थी।  फिल्म १०० करोड़ कमाने वाली पहली साउथ की फिल्म भी बनी।  सीक्वल फिल्म की नायिका दक्षिण की जानी पहचानी अभिनेत्री एमी जैक्सन हैं।  हिंदी दर्शकों के पहचाने सुधांशु पांडेय और आदिल हुसैन भी फिल्म में काम कर रहे हैं।  लेकिन, अक्षय कुमार का डॉक्टर रिचर्ड का विलेन किरदार हिंदी दर्शकों को ख़ास आकर्षित करने जा रहा है।  २.० अक्षय कुमार के करियर की सबसे महँगी फिल्म साबित होने जा रही है।  तमिल, तेलुगु और हिंदी में बनाई जा रही २.० के निर्माण में ४५० करोड़ खर्च हुए हैं।  अक्षय कुमार के विलेन के बावजूद हिंदी दर्शकों द्वारा  २.० के अगले साल २५ जनवरी को रिलीज़ होने का शिद्दत से इंतज़ार किया जा रहा है।
डायरेक्टर शिवा की तमिल फिल्म विवेगम
अक्षय कुमार की विज्ञान फैन्टसी फिल्म २.० से छह महीना पहले तमिल फिल्म विवेगम १० अगस्त को रिलीज़ हो जाएगी।  यह फिल्म एक स्पाई थ्रिलर फिल्म है।  फिल्म की ७० प्रतिशत से ज़्यादा शूटिंग यूरोप में, ख़ास तौर पर स्लोवेनिया में हुई है।  इस फिल्म में अजित कुमार ने इंटरपोल अफसर विवेक का किरदार किया है। फिल्म में हिंदी दर्शकों के जाने पहचाने अक्षरा हासन और काजल अग्रवाल के चेहरे भी हैं।  लेकिन, ख़ास है फिल्म में बॉलीवुड फिल्मों के नायक विवेक ओबेरॉय का एक खल किरदार करना । विवेगम ओबेरॉय की पहली तमिल फिल्म है।  यह फिल्म १० अगस्त को रिलीज़ होगी। आरव चौधरी को दर्शक माइथोलॉजिकल टीवी सीरियल महाभारत के भीष्म पितामह और इस प्यार को क्या नाम दूँ के इंद्रजीत के रूप में पहचानते हैं। विवेक ओबेरॉय को दक्षिण के दर्शक रामगोपाल वर्मा की दो हिस्सों में बनी तेलुगु फिल्म रक्तचरित्र से पहचानते हैं।  
प्रभाष की साहो के विलीन नील नितिन मुकेश 
बाहुबली २ के बाद, इसके नायक प्रभाष की किस्मत के दरवाज़े फिर खुल गए हैं।  बाहुबली २ के तत्काल बाद प्रभाष को फिल्म साहो के लिए अनुबंधित कर लिया गया। फिल्मकार वामसी की इस फिल्म का निर्देशन सुजीत कर रहे है। १५० करोड़ की लागत से बनाई जा रही इस फिल्म का निर्माण पूरे भारत के दर्शकों की दृष्टि से किया जा रहा है।  इसलिए, फिल्म में बॉलीवुड के जानेपहचाने एक्टर और तकनीशियन शामिल किये गए हैं।  पिछले दिनों यह खबर थी कि हिंदी, तमिल, तेलुगु और मलयालम भाषा में बनाई जा रही इस फिल्म के लिए तीन बॉलीवुड अभिनेत्रियों अलिया भट्ट, कैटरिना कैफ और पूजा हेगड़े का स्क्रीन टेस्ट लेने के बाद फिल्म की नायिका के लिए कंगना रानौत को चुना गया है। इस फिल्म में नील नितिन मुकेश विलेन के ताकतवर किरदार में हैं। इससे पहले नील ने तमिल फिल्म कठ्ठी में भी विलेन किरदार किया था। इरोस ने फिल्म के लिए ४५० करोड़ का प्रस्ताव इसके निर्माता को दिया है।  
पुराना है दक्षिण की फिल्मों में बॉलीवुड के विलेन का 
दक्षिण की फिल्मों में बॉलीवुड के अभिनेताओं का विलेन किरदार करना, पुराना ट्रेंड है। काफी बॉलीवुड अभिनेता दक्षिण की फिल्मों में खल किरदार कर चुके हैं। दरअसल, दक्षिण की फिल्मों में बॉलीवुड से विलेन बनाने का सिलसिला मणिरत्नम ने १९९१ में शुरू किया था। फिल्म थी रजनीकांत, माम्मूटी और अरविन्द स्वामी अभिनीत तमिल फिल्म दलपति। इस फिल्म में अमरीशपुरी ने मुख्य विलेन का किरदार किया था।  मणिरत्नम ने अगली ही फिल्म रोजा में पंकज कपूर को आतंकवादियों सरगना का किरदार सौंपा।  इसके बाद बॉलीवुड के मुकेश ऋषि, प्रदीप रावत, सोनू सूद, राहुल देव, आदि अभिनेता दक्षिण की फिल्मों में बुरे किरदार निभाते नज़र आने लगे। बॉलीवुड के कुछ अभिनेता इक्कादुक्का दक्षिण की फिल्मों में विलेन किरदार करते नज़र आये।  इनमे मनोज बाजपेई ने तेलुगु फिल्म वेदम, आशीष विद्यार्थी ने तेलुगु फिल्म पोकिरी, प्रदीप रावत ने तमिल फिल्म गजिनी, मुकेश ऋषि ने तेलुगु फिल्म इन्द्र, मुकेश तिवारी ने तमिल फिल्म कांथास्वामी, सयाजी शिंदे ने तीन भाषाओं तमिल, तेलुगु और कन्नड़ फिल्म धुल, अतुल कुलकर्णी ने तमिल फिल्म रन, सोनू सूद ने तेलुगु फिल्म अतिथि और सलीम ग़ौस ने मलयालम फिल्म तजवरम में खाल किरदार किये।  
इसके बावजूद कि दक्षिण की फिल्मों में बॉलीवुड के विलेन का सिलसिला २६ साल पुराना है, बॉलीवुड की फिल्मों के बड़े अभिनेताओं को मोटी फीस देकर विलेन बनाने का सिलसिला हालिया शुरू है। फिल्मकार शंकर ने अक्षय कुमार को २.० का विलेन बनाने के लिए २५ करोड़ की मोटी फीस दी थी। जिस प्रकार से दक्षिण और बॉलीवुड की फिल्मों का फॉर्मेट बदल रहा है, इनका विस्तार पूरा हिंदुस्तान बन रहा है, दक्षिण के निर्माता बॉलीवुड अभिनेताओं को अपनी फिल्म का किरदार बना कर यूनिवर्सल अपील बनाने की फिराक में हैं। इस कड़ी में अभिनेता रोनित रॉय सबसे नए बॉलीवुड अभिनेता हैं।  वह तेलुगु फिल्मों के जूनियर एनटीआर की फिल्म जय लव कुश में विलेन किरदार कर रहे हैं।  रोहित रॉय को दक्षिण के विलेन अभिनेता दुनिया विजय के ऊपर प्राथमिकता देकर लिया गया है।  बताते हैं कि फिल्म की पृष्ठभूमि के लिहाज़ से रोनित रॉय फिट बैठते थे।  

अल्पना कांडपाल 

No comments:

Post a Comment