Tuesday, 23 June 2015

टाइटैनिक के कंपोजर जेम्स हॉर्नर नहीं रहे

फिल्म 'टाइटैनिक' के लिए दो ऑस्कर जीतने वाले जेम्स हॉर्नर खुद के लिए खतरनाक साबित हुए।  २२ जून को वह अपने वन-सीटर एयरक्राफ्ट के साथ उड़े थे।  लेकिन, उसे वापस ज़मीन पर सुरक्षित नहीं  उतार सके।  सांता बारबरा से ६० किलोमीटर उत्तर में एक घने जंगल में उनका एयरक्राफ्ट ध्वस्त हो गया। पियानो बजाने में माहिर जेम्स हॉर्नर को १९७९ में रिलीज़ फिल्म 'द लेडी इन रेड' में पहला बड़ा मौका मिला।  परन्तु, इसके बावजूद वह खुद को मुख्य धारा के सिनेमा में तब तक स्थापित नहीं कर सके, जब तक स्टार ट्रेक सीरीज की फकिल्म 'स्टार ट्रेक २ : द  रैथ को खान' नहीं मिली । इस फिल्म से वह ए ग्रेड की हॉलीवुड फिल्मों के कंपोजर बन गए।  टाइटैनिक और अवतार के लिए  उनकी  धुनें सबसे ज़्यादा बिकाऊ  साबित हुई।  इन दोनों ही फिल्मों के डायरेक्टर जेम्स कैमरून थे। हॉर्नर ने जेम्स कैमरून के अलावा जीन-जैक्वेस अन्नौड, मेल गिब्सन, वॉटर हिल, रॉन होवार्ड और जो जोंस्टन की फिल्मों का संगीत दिया। उनके खाते में जेम्स कैमरून की तीन फिल्मों के अलावा दो स्टार ट्रेक फ़िल्में, 'अ ब्यूटीफुल माइंड', 'फील्ड ऑफ़ ड्रीम्स' और 'अपोलो बी' जैसी क्लासिक फ़िल्में दर्ज़ हैं।   हॉर्नर ने अपने करियर में सौ से ज़्यादा फिल्मों का संगीत तैयार किया।  उन्होंने टाइटैनिक के लिए दो ऑस्कर (बेस्ट ओरिजिनल ड्रामेटिक स्कोर और बेस्ट ओरिजिनल सांग 'माय हार्ट विल गो ऑन') के अलावा ऑस्कर के आठ  नॉमिनेशन भी मिले।  उन्हें दो गोल्डन ग्लोब अवार्ड्स, तीन सॅटॅलाइट अवार्ड्स और तीन सैटर्न अवार्ड्स भी मिले।  उन तीन ब्रिटिश अकादमी फिल्म अवार्ड्स में नामित किया गया।  अक्टूबर २०१३ में उन्हें हॉलीवुड में विएना गाला में फिल्म म्यूजिक के क्षेत्र में असाधारण योगदान के लिए मैक्स स्टेनर अवार्ड्स दिया गया। 

No comments:

Post a Comment