Saturday, 23 June 2018

रेस ३ की असफलता का पहला शिकार रेमो डिसूज़ा ?

किसी फिल्म के आशानुकूल प्रदर्शन न कर पाने या फ्लॉप हो जाने के बाद, भगदड़ जैसी मच जाती है। दोषारोपण शुरू हो जाता है।  

रेस ३ के साथ कुछ ऐसा ही हो रहा है।

सलमान खान ने रेस ३ की 'सक्सेस पार्टी' ज़रूर दी है। लेकिन, फिल्म से जुड़े सितारों की ख़ामोशी काफी कुछ बयान कर जाती है।

इस फिल्म का बेहद खराब दूसरा शुक्रवार फिल्म के फ्लॉप हो जाने का ऐलान करने वाला है।

इसके साथ ही, सर गिरने की शुरुआत हो चुकी है।

खबर है कि अगर रेस ४ बनेगी तो उसके डायरेक्टर की रेस में रेमो डिसूज़ा नहीं होंगे।

रेमो डिसूज़ा फिल्म रेस ३ के डायरेक्टर थे।

फिल्म की सफलता या असफलता का सेहरा या ठीकरा इन्ही दोनों के सर बांधा या फोड़ा जाता है।

सलमान खान तो हीरो है। अपने बूते पर १०० करोड़ का वीकेंड करवाने वाले।

लेकिन, इसके बाद डायरेक्टर और स्क्रिप्ट का जिम्मा होता है।

रेस ३ का सब कुछ खराब था।

रेमो डिसूज़ा को एक एक्शन फिल्म के लिए लिया जाना समझदारी भरा निर्णय नहीं कहा जा सकता था। लेकिन, सलमान खान तो जैसे अब्बास मुस्तान को देखना ही नहीं चाहते थे।

फिल्म की स्क्रिप्ट काफी रद्दी और अविश्वसनीय थी।

गीत संगीत बेफिज़ूल के घुसेड़े हुए और मामूली से थे। जबकि, पहली दो रेस फिल्मों में यही काफी सशक्त थे।

सबसे बड़ी बात, सलमान खान अपनी सिकंदर की भूमिका के बिलकुल अनुपयुक्त थे।  न जाने वह कब समझेंगे कि उनकी फिफ्टी प्लस की कमर में इतनी ताकत नहीं कि ट्वेंटी प्लस की नायिकाओं के साथ थिरक सके और दर्शकों की तालियां बटोर सकें।

जहाँ तक रेस ३ के बॉक्स ऑफिस प्रदर्शन का सवाल है, फिल्म पद्मावत के लाइफ टाइम  कलेक्शन का ख्वाब तक नहीं देख सकती।

यहाँ तक कि यह फिल्म एक्शन जॉनर की युवा टाइगर श्रॉफ की फिल्म बागी २ के १६६ करोड़ के कारोबार से काफी पीछे चल रही है।

उम्मीद नहीं है कि रेस ३ को १५० करोड़ का आंकड़ा छूना नसीब हो सकेगा ! 

No comments:

Post a Comment