Wednesday, 23 May 2018

सोनी टीवी पर 'ज़िन्दगी के क्रॉसरोड्स'

हमारी जिंदगी ऐसे फैसलों और विकल्पों से भरी पड़ी है, जो हम रोजमर्रा की जिंदगी में लेते हैं। इनमें से ज्यादातर फैसले आसान होते हैं लेकिन कुछ बाकियों से बहुत ही मुश्किल। हालांकि, कुछ फैसले ऐसे होते हैं जिनके असर को हम बदल नहीं सकते और इन फैसलों से ही व्यक्ति का चरित्र परिभाषित होता है। यह फैसले उस समय लिए जाते हैं जब हम दोहारे पर होते हैं, जब आपका फैसला आपकी जिंदगी को दिशा देता है और न केवल आपकी जिंदगी में बल्कि उन लोगों की जिंदगी की दिशा भी बदल देते हैं जो आपके लिए सबसे ज्यादा महत्व रखते हैं। अक्सर, क्रॉसरोड्स पर लिए गए फैसले किसी और के लिए होते हैं लेकिन उन्हें लेने की जिम्मेदारी आपकी होती है। आखिर कोई ऐसे फैसले कैसे ले सकता है और उनसे कैसे निपट सकता है? यह ऐसे कुछ प्रश्न हैं, जिनके जवाब सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन ने अपनी नई पेशकश जिंदगी के क्रॉसरोड्स के जरिये तलाशने की कोशिश की है।

भारत में प्राइम टाइम टेलीविजन पर अपनी तरह का यह अनूठा शो होगा, जिसका फॉर्मेट बिल्कुल अलग होगा। इसमें जिंदगी की नाटकीयता से प्रेरित जिंदगी बदलने वाली कहानियों को प्रस्तुत किया जाएगा। स्टूडियो ऑडियंस के सामने नाटकीयता के साथ उस वक्त को दिखाया जाएगा, जो क्रॉसरोड्सपर आते वक्त था। स्टूडियो ऑडियंस में हमारे देश के अलग-अलग तबकों के प्रतिनिधि होंगे, जो इस बात पर चर्चा करेंगे कि क्या उस समय हमारे में से ज्यादातर क्या फैसला लेते। दर्शकों के लिए यह आत्मनिरीक्षण का आईनाहोगा और कई के लिए तो यह जिंदगी में लिए जाने वाले फैसलों को भी प्रभावित करेगा। 

जिंदगी के क्रॉसरोड्स में हर एपिसोड में नई कहानी प्रस्तुत की जाएगी और कलाकारों द्वारा यह दिखाया जाएगा कि जिंदगी के दोराहे पर कैसी परिस्थिति बनती है। इसके बाद विशेष स्टूडियो ऑडियंस के सामने उस प्रश्न पर बहस की जाएगी। लोकप्रिय टीवी कलाकार राम कपूर को आप इस शो के होस्ट के तौर पर देख सकेंगे, जो न केवल ऑडियंस को अपनी राय देने के लिए प्रेरित करेंगे बल्कि क्यों का जवाब तलाशने की हरसंभव कोशिश करेंगे। ऑडियंस के सामने उन ज्वलंत मुद्दों को रखा जाएगा। ऑडियंस के सामने यह प्रश्न उछाला जाएगा कि इस तरह क्रॉसरोड्स की स्थिति यदि आपके सामने बने तो आप क्या करेंगे?”

इस शो का प्रीमियर 6 जून को होगा और हर बुधवार, गुरुवार और शुक्रवार को चैनल पर रात 8.30 बजे प्रसारित होगा।

शबीना खान ने इस शो को प्रोड्यूस किया है, जो भारतीय फिल्म इंडस्ट्री से काफी करीब से जुड़ी हुई हैं। शो का कंसेप्ट, स्टोरी और स्क्रीनप्ले महादेव का है, जो विजेंद्र प्रसाद और एसएस राजामौलि की टीम का हिस्सा रहा है। जिंदगी के क्रॉसरोड्स जिंदगी की परेशानियों को कम करने वाला फार्मेट है, जो दर्शकों को दूसरों के मुद्दों और दुविधायों के आधार पर खुद का आकलन करने के लिए प्रेरित करेगा।

कमेंट्स:
 दानिश खान, एक्जीक्यूटिव वाइस प्रेसिडेंट, और बिजनेस हेड, सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन 
सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन हमेशा से आगे रहा है और हमें खुशी है कि जिंदगी के क्रॉसरोड्स के जरिये हम बिल्कुल अलग फॉर्मेट पेश कर रहे हैं। इसमें स्क्रिप्टेड हिस्सा भी है और बिना स्क्रिप्ट वाला भी। इस यूनिक फॉर्मेट को प्रोड्यूस किया है शबीना ने और शो रनर महादेव के दिमाग की उपज है। हमें खुशी है कि हम राम कपूर को इस अनदेखे अवतार में पेश कर रहे हैं। वे अन-स्क्रिप्टेड हिस्से को होस्ट करेंगे। हमें भरोसा है कि यह यूनिक शो दर्शकों को चकित करेगा।

शबीना खान, प्रोड्यूसर, जिंदगी के क्रॉसरोड्स 
जब महादेव ने मुझे शो का कंसेप्ट सुनाया तो मैं सोच में पड़ गई... इस शो को प्रोड्यूस क्यों न किया जाए। उसका संदर्भ जितना सही है, उतना ही आज की तारीख में प्रासंगिक भी है। हकीकत में, मैंने भी खुद को जिंदगी के क्रॉसरोड्स पर पाया है, जब मेरे लिए दिशा चुनने के लिए कोई भी नहीं था। मेरे फैसले और विकल्प ही थे, जिन्होंने मेरी जिंदगी को आज की परिस्थिति में ढाला। मैं सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन की आभारी हूं जिन्होंने हम पर भरोसा रखा और अपनी तरह के इस अनूठे शो को बनाने में साथ दिया।

महादेव, कंसेप्ट, स्टोरी और स्क्रीनप्ले राइटर, जिंदगी के क्रॉसरोड्स 
हम सभी अपनी जिंदगी में किसी न किसी क्रॉसरोड्स को पार कर यहां तक पहुंचे हैं। उस समय हमें यह लगता था कि हमारे साथ ही ऐसा हो रहा है। यह निराशाजनक और परेशानी से भरा हो सकता है। लेकिन जिंदगी चलती रहती है और हम उस अनुभव से खुद को समृद्ध समझते हैं। हर बार जब मैंने किसी दोराहे को पार किया, उसने मुझे सोचने को मजबूर किया कि क्या मैं इससे निपटने को तैयार हूं? इस विचार ने ही इस शो के बीज मेरे दिमाग में बोए। यह कहानियां दर्शकों को इस पहलू की संवेदनशीलता समझाएगी कि फैसला सही या गलत नहीं होता, बल्कि वह जिंदगी के क्रॉसरोड्स का हिस्सा होता है, जिससे हमें पार जाना पड़ता है।
        
सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन के बारे में 
सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन (सेट) भारत के प्रमुख हिंदी सामान्य मनोरंजन टीवी चैनलों में से एक है। यह सोनी पिक्चर्स टेलीविजन (एसपीटी) का हिस्सा है, जिसे भारत के प्रमुख टेलीविजन नेटवर्क मल्टी स्क्रीन मीडिया प्राइवेट लिमिटेड का समर्थन है। अपनी अक्टूबर 1995 में शुरुआत के बाद से अब तक सेट ने भारतीय टीवी इंडस्ट्री में अपने अनूठे कंटेंट की वजह से खास जगह बनाई है। टेलीविजन प्रोग्रामिंग का नया दौर लाने में अग्रणी रहा है। फिर चाहे बात ब्लॉकबस्टर मूवी प्रीमियर की हो, बिग फॉर्मेट नॉन-फिक्शन शो की और फिक्शन शो की। सबसे बड़ा कलाकार, सुपर डांसर, द कपिल शर्मा शो, इंडियन आइडल, कौन बनेगा करोड़पति, एंटरटनमेंट के लिए कुछ भी करेगा, संकट मोचन महाबली हनुमान, बेहद, कुछ रंग प्यार के ऐसे भी, बाजीराव पेशवा, सीआई, क्राइम पेट्रोल, बड़े अच्छे लगते हैं, भारत का वीर पुत्र महाराणा प्रताप और इतना करो ना मुझे प्यार जैसे शो ने खूब लोकप्रियता बटोरी है। सेट अपने इनोवेटिव कंसेप्ट्स और रोमांचक प्रारूपों की वजह से जाना जाता है और यह सबसे पसंदीदा पारिवारिक मनोरंजन चैनल है। जो 700 से अधिक ब्रांड्स को भारत के 93 मिलियन परिवारों तक पहुंचाने का मजबूत प्लेटफार्म है। इसके अलावा, सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन अमेरिका, ब्रिटेन, अफ्रीका, यूरोप, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, सिंगापुर, पाकिस्तान, नेपाल, बांग्लादेश, मालदीव, मलेशिया, इंडोनेशिया, फिजी द्वीप समूह और सेशेल्स में भी उपलब्ध है। कुल मिलाकर, सेट भारतीय उपमहाद्वीप में 332 मिलियन से अधिक दर्शकों और दुनियाभर में दक्षिण एशियाई समुदाय को प्रभावित करता है।

सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया (एसपीएन) के बारे में: 
सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया (एसपीएन) सोनी कॉर्पोरेशन की एक सहायक कंपनी है, जो टीवी चैनलों के सोनी एंटरटेनमेंट नेटवर्क का मालिक है।  
एसपीएन में 31 चैनल्स हैं, जिसमें सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन (सेट और सेट एचडी), भारत के प्रमुख हिंदी सामान्य मनोरंजन चैनल्स में से एक; मैक्स, भारत का प्रीमियम हिंदी मूवी चैनल और विशेष इवेंट्स का चैनल; मैक्स 2, एक अन्य मूवी चैनल जो ग्रेट इंडियन सिनेमा दिखाता है; मैक्स एचडी, हाई डेफिनेशन हिंदी मूवी चैनल जो ग्रेट इंडियन सिनेमा दिखाता है; वाह, हिंदी मूवीज के लिए एफटीए चैनल; सब और सब एचडी,  फैमिली-ओरिएंटेड एंटरटेनमेंट चैनल्स; पल, हिंदी बोलने वाले ग्रामीण मार्केट्स (एचएसएम) में अग्रणी हिंदी चैनल जो एसपीएन की कंटेंट लाइब्रेरी में से सामान्य मनोरंजन और फिल्मों को दिखाता है; पिक्स और पिक्स एचडी, अंग्रेजी फिल्मों के चैनल्स; लीप्लेक्स एचडी, हॉलीवुड की क्रिटिकली अक्लेम्ड फिल्मों का चैनल; एएक्सएन और एएक्सएन एचडी, एक्शन और एडवेंचर-ओरिएंटेड अंग्रेजी मनोरंजन चैनल्स; सोनी बीबीसी अर्थ  और सोनी बीबी अर्थ एचडी, प्रीमियर फेक्चुअल एंटरटेनमेंट चैनल्स, सोनी आथ, बांग्ला एंटरटेनमेंट चैनल; मिक्स, हिंदी म्युजिक चैनल; रॉक्स एचडी, समसामयिक हिंदी म्युजिक का चैनल; ये! बच्चों का मनोरंजन चैनल; स्पोर्ट्स नेटवर्क में 11 स्पोर्ट्स एंटरटेनमेंट चैनल्स हैं- सोनी सिक्स, सोनी सिक्स एचडी, सोनी ईएसपीएन, सोनी ईएसपीएन एचडी, सोनी टेन 1, सोनी टेन 1 एचडी, सोनी टेन 2, सोनी टेन 2 एचडी, सोनी टेन 3, सोनी टेन 3 एचडी, सोनी टेन गोल्फ एचडी; सोनीलिव, डिजिटल एंटरटेनमेंट वीओडी प्लेटफार्म, एसपीएन प्रोडक्शन, नेटवर्क्स फिल्म प्रोडक्शन आर्म और सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स डिस्ट्रिब्यूशन प्रा.लि. (एसपीएनडी) जो नेटवर्क्स टेलीविजन चैनल्स को अलग-अलग ज़ोनर और भाषआओं में मल्टीपल कंटेंट डिलीवरी प्लेटफार्म के जरिये वितरित कर रहा है। एसपीएन भारत के 700 मिलियन दर्शकों तक पहुंचता है और 167 देशों में उपलब्ध है।
इस नेटवर्क को मीडिया उद्योग के भीतर और बाहर, पसंदीदा नियोक्ता के तौर पर पहचाना जाता है। एसपीएन का अनूठा वर्क कल्चर 2017 में उसे 'एऑन बेस्ट एम्प्लॉयर' पुरस्कार सहित कई पुरस्कार दिला चुका है। अद्वितीय पीपल प्रैक्टिसेस के दम पर यह एसएचआरएम और सीजीपी द्वारा बेस्ट हेल्थ एंड वेलनेस प्रैक्टिसेस में भारत की शीर्ष 10 कंपनियों में शामिल हैं। वर्किंग मदर एंड अवतार ने इसे भारत में महिलाओं के लिए 100 सर्वश्रेष्ठ कंपनियों में से एक के रूप में सूचीबद्ध किया है।  इसे 2017 के संस्करण में भारत के ग्रेट मिड-साइज वर्कप्लेस में से एक चुना गया है।

सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया प्रा.लि. का यह भारत में ऑपरेशंस का 23वां वर्ष है। उसकी सहायक कंपनियों में सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स डिस्ट्रिब्यूशन इंडिया प्रा.लि., एमएसएम-वर्ल्डवाइड फैक्चुअल मीडिया प्रा.लि., एमएसएम डिस्कवरी प्रा.लि., ताज टेलीविजन (इंडिया) प्रा.लि., एक्वा होल्डिंग इन्वेस्टमेंट्स (प्रा.) लि. और बांग्ला एंटरटेनमेंट प्रा.लि. शामिल है।  


मेंटल है क्या के सेट्स से कंगना रानौत  - पढ़ने के लिए क्लिक करें 

No comments:

Post a Comment